कुछ पल जगजीत सिंह के नाम

अक्टूबर 25, 2006

फुलों की तरह लब खोल कभी


फुलों की तरह लब खोल कभी
ख़ूश्बू की ज़ुबा मे बोल कभी
अलफ़ाज़ परखता रेहता है
आवाज़ हमारी तोल कभी
अन्मोल नहीं लेकिन फिर भी
पूछो तो मुफ़्त का मोल कभी
खिड़की में कटी है सब राते
कुछ चौर्स थीं, कुछ गोल कभी
ये दिल भी दोस्त ज़मीं की तरह
हो जाता है डांवां डोल कभी

Advertisements

9 टिप्पणियाँ »

  1. अरे, आप भी जगजीत सिह जी के प्रशंसक निकले, चलिये एक और साथ मिला।

    डा प्रभात टन्डन
    गजलों की दुनिया से
    http://www.drprabhatlkw.wordpress.com

    टिप्पणी द्वारा PRABHAT TANDON — अक्टूबर 26, 2006 @ 8:37 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया

  2. I Like It.

    टिप्पणी द्वारा Nadeem — अक्टूबर 27, 2006 @ 3:19 अपराह्न | प्रतिक्रिया

  3. Hello…Alll
    I like this Ghazal. well i like all ghazals by Jagjit singh ji and Gulzar ji.

    टिप्पणी द्वारा Amit Tyagi — दिसम्बर 18, 2006 @ 3:22 अपराह्न | प्रतिक्रिया

  4. Hello all

    A living legend

    From heart to heart

    टिप्पणी द्वारा Gurvinder — मार्च 3, 2007 @ 1:19 अपराह्न | प्रतिक्रिया

  5. i like this gazal

    टिप्पणी द्वारा sourabh — जून 6, 2007 @ 5:25 अपराह्न | प्रतिक्रिया

  6. i love jagjit singh’s ghazals very much.

    टिप्पणी द्वारा gurcharan — जुलाई 13, 2007 @ 2:15 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया

  7. waaaaaah, its an wonderful song, jagjit ji sang such a amazing…

    टिप्पणी द्वारा sadiqueismail — मई 2, 2008 @ 12:19 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया

  8. INNOCENT LYRICS

    टिप्पणी द्वारा HARDEEP BHALLA — सितम्बर 5, 2008 @ 3:22 अपराह्न | प्रतिक्रिया

  9. life is lowely flower

    टिप्पणी द्वारा Deepak Kumar Shukla — जुलाई 21, 2015 @ 9:50 अपराह्न | प्रतिक्रिया


RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

WordPress.com पर ब्लॉग.

%d bloggers like this: