कुछ पल जगजीत सिंह के नाम

नवम्बर 2, 2006

तेरी सूरत जो भरी रहती है आँखों में सदा


तेरी सूरत जो भरी रहती है आँखों में सदा
अजनबी चेहरे भी पहचाने से लगते हैं मुझे
तेरे रिश्तों में तो दुनियाँ ही पिरो ली मैने

एक से घर हैं सभी एक से हैं बाशिन्दे
अजनबी शहर मैं कुछ अजनबी लगता ही नहीं
एक से दर्द हैं सब एक से ही रिश्ते हैं

उम्र के खेल में इक तरफ़ा है ये रस्सकशी
इक सिरा मुझको दिया होता तो कुछ बात भी थी
मुझसे तगडा भी है और सामने आता भी नहीं

सामने आये मेरे देखा मुझे बात भी की
मुस्कुराये भी पुराने किसी रिश्ते के लिये
कल का अखबार था बस देख लिया रख भी दिया

वो मेरे साथ ही था दूर तक मग़र एक दिन
मुड के जो देखा तो वो और मेरे पास न था
जेब फ़ट जाये तो कुछ सिक्के भी खो जाते हैं

चौधंवे चाँद को फ़िर आग लगी है देखो
फ़िर बहुत देर तलक आज उजाला होगा
राख हो जायेगा जब फ़िर से अमावस होगी

Advertisements

2 टिप्पणियाँ »

  1. maharaj,
    hindi likhne, likh sakne sambandhi mera ek sawal tha. hindi ke istemal ke baare mein. ek tareeka toh unicode ka istemal kar ke likhai post karne wala hai (jo main jaanta nahin), doosra main aapse ye jaan-na chahta tha, ki main apne comp pe jis devnagri font (krutidev 10, 16 etc) ka abhyast hoon, aur jiski likhai mein meri rawani hai, uska main saaf-suthre tareeke se wordpress ke blob mein istemaal kar sakta hoon ya nahi?…
    meri uljhan door karne me zara sa waqt nikaliyega toh meharbani hogi…
    thanx and regards.
    nandomadho

    टिप्पणी द्वारा nandomadho — नवम्बर 3, 2006 @ 9:07 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया

  2. Jagjitji after hearing all the songs of “Koi Baat chale” I fell in love with your voice.There is a lot of intensity in your voice. I will pray God to give life more than me , thats because I canant stay alive without your music.. Thank you for entertaining us.

    टिप्पणी द्वारा Mousumi Padhi — फ़रवरी 3, 2007 @ 12:25 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया


RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

वर्डप्रेस (WordPress.com) पर एक स्वतंत्र वेबसाइट या ब्लॉग बनाएँ .

%d bloggers like this: