कुछ पल जगजीत सिंह के नाम

अक्टूबर 25, 2007

बोलो राम जय जय राम


बोलो राम जय जय राम,
मुनिमन रंजन भव भये भंजन,
असुर निकंदन सीता राम,
पतित उद्धारण जग जन तारण,
नित्ये निरंजन सीता राम,
दशरत नंदन सुर मुनि वंदन,
परेय्पप वंदन सीता राम,
जग सुख कारण जग जन पालन,
संतन जीवन सीता राम,
सत्ये सनातन मंगल कारन,
सगुण निरंजन सीता राम,
राम ही पावन अति मन भावन,
नर नारायण सीता राम,

वर्डप्रेस (WordPress.com) पर एक स्वतंत्र वेबसाइट या ब्लॉग बनाएँ .